Daily Current Affairs & General Awareness – 12-Sep-2018

Share this article on
  • 5
    Shares

  1. दो दिवसीय भारत-संयुक्त अरब अमीरात भागीदारी शिखर सम्मेलन (IUPS) 30 अक्टूबर से दुबई में आयोजित किया जाएगा। बिजनेस लीडर फोरम (BLF) द्वारा दूसरा भारत-संयुक्त अरब अमीरात भागीदारी शिखर सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है। दुबई में भारत के कॉन्सुल जनरल विपुल ने कहा, “मुझे खुशी है कि IUPS का दूसरा संस्करण इस वर्ष BLF द्वारा वाणिज्य दूतावास के साथ साझेदारी में आयोजित किया जा रहा है।
  2. रूस ने पूर्वी साइबेरिया में लगभग 300,000 सेवा कर्मियों के साथ शीत युद्ध के बाद से अपना सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास “वोस्टोक-2018” शुरू किया है। चीन कई चीनी बख्तरबंद वाहनों और विमानों के साथ “वोस्तोक-2018” में भाग लेने के लिए 3,200 सैनिक भेज रहा है। मंगोलिया भी कुछ इकाइयों को भी भेज रहा है।
  3. भारतीयव्‍यापार संवर्धन परिषद (TPCI) की अगुवाई में 75 सदस्‍यों का भारतीय प्रतिनिधिमंडल तुर्की में आयोजित 87वीं इजमिर अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनी में भाग ले रहा है। इस प्रतिनिधिमंडल ने अनेक बी2बी बैठकों में भाग लिया और तुर्की के कारोबारी समुदाय के सदस्‍यों के साथ अनेक व्‍यावसायिक गठबंधन किए। भारत इस व्यापार प्रदर्शनी में फोकस देश है और ‘सोर्स इंडिया’ के नाम से इसका स्‍वयं का अपना अकेला मंडप है। भारतीय मंडप दरअसल अनगिनत उत्‍पादों वाला मंडप है जिसमें कंपनियां मिट्टी के बर्तन, अनाज और   यान्त्रिक उपकरण जैसे अनेक उत्‍पादों को भी प्रदर्शित कर रही हैं।

  1. बिहार और नेपाल अब बस से जुड़े हुए हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार और नेपाल के बीच पहली बस सेवा को शुरु किया। यह सेवा बिहार में बोध गया और पटना को नेपाल में काठमांडू और जनकपुर से जोड़ती है। भारत और नेपाल के बीच एक समझौते के बाद बस सेवा शुरू की गई थी।
  2. प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग (DAR & PG),भारत सरकार द्वारा मध्‍य प्रदेश सरकार के सहयोग से भोपाल में 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों के प्रतिनिधियों के साथ सुशासन पर आयोजित  दो दिवसीय क्षेत्रीय सम्‍मेलन का शुभारंभ किया गया। 2 दिवसीय सम्मेलन में 5 तकनीकी सत्र होंगे, जिनके विषयों में शामिल हैं: ICT सक्षम शिक्षा, कृषि, लोक सेवा और शिकायत प्रबंधन और सुशासन पहल।
  3. आंध्र प्रदेश सरकार ने एक मोबाइल प्लेटफॉर्म, ई-रायथू (तेलुगू में ई-किसान) लॉन्च किया हैजो छोटे पैमाने पर किसानों को उचित मूल्य पर अपने उत्पाद का विपणन करने में सक्षम बनाएगा। यह मंच वैश्विक भुगतान और प्रौद्योगिकी कंपनी मास्टरकार्ड द्वारा विकसित किया गया है और इसका लक्ष्य कृषि बाजारों, भुगतान, वर्कफ़्लो को डिजिटाइज करना है, और किसानों को उनके फीचर फोन के माध्यम से कृषि उत्पादों के लिए भुगतान, बिक्री और भुगतान करने का एक आसान और सुरक्षित तरीका प्रदान करना है। ई-रायथू को मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने लॉन्च किया। यह मंच को नैरोबी, केन्या में वित्तीय समावेशन के लिए मास्टरकार्ड लैब्स द्वारा विकसित किया गया है, और पुणे में आधारित लैब्स टीम द्वारा भारत के उपयोग के लिए अनुकूलित किया गया है।
  4. प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने स्वीकृतियां के निम्नलिखित सेट दिए हैं। महत्वपूर्ण कैबिनेट स्वीकृतियां निम्नानुसार दी गई हैं-
    मंत्रिमंडल ने स्वीकृत दी है-
    मंत्रिमंडल ने निम्नलिखित स्वीकृति दी मेसर्स राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्ट्रिलाइजर्स (RCF) की जमीन का मुंबई महानगरीय क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण (MMRDA) को हस्तांतरण
    2. मंत्रिमंडल ने उपग्रह एवं प्रक्षेपण यान के लिए टेलीमैट्री एवं टेलीकमांड स्‍टेशन के परिचालन और अंतरिक्ष अनुसंधान, विज्ञान एवं अनुप्रयोग में सहयोग पर भारत और ब्रुनेई दारुस्‍सलाम के बीच एमओयू को मंजूरी दी
    3. मंत्रिमंडल ने ब्रिक्‍स इंटरबैंक कोऑपरेशन मेकेनिज्‍म के तहत एग्जिम बैंक द्वारा डिजिटल अर्थव्‍यवस्‍था के विकास के संदर्भ में डिस्‍ट्रीब्‍यूटेड लेजर एंड ब्‍लॉक चेन टेक्‍नोलॉजी पर कोलाब्रेटिव रिसर्च के लिए एमओयू को मंजूरी दी
    4.मंत्रिमंडल ने शांति पूर्ण उद्देश्यों के लिए बाह्य अंतरिक्ष की खोज और उपयोग के क्षेत्र में सहयोग पर भारत और दक्षिण अफ्रीका के बाच समझौता ज्ञापन को स्वीकृति दी
    5. मंत्रिमंडल ने कृषिएवं संबद्ध क्षेत्रों में सहयोग पर भारत और मिस्र के बीच एमओयू को मंजूरी दी
    6. मंत्रिमंडल ने पर्यटन के क्षेत्र में सहयोग को मजबूत बनाने के लिए भारत और माल्टा के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी
    7.मंत्रिमंडल ने तेल एवं गैस के लिए इनहेन्‍स्‍ड रिकवरी व्‍यवस्‍था कोप्रोत्‍साहित करने के लिए नीतिगत ढांचे को मंजूरी दी
    8. नई अम्ब्रेला योजना “प्रधान मंत्री अन्नदाता ऐ संरक्षण अभियान” (पीएम-आशा)।
    9.मंत्रिमंडल ने नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ डिजाइन (NID) एक्‍ट, 2014 में संशोधन को मंजूरी दी
  5. परिवहन क्षेत्र पर देश में अपने तरह के पहले विश्वविद्यालय, राष्ट्रीय रेल और परिवहन संस्थान (NRTI) ने इस हफ्ते परिचालन शुरू किया। कुल 103 छात्रों इस अनूठे संस्थान के पहले बैच में शामिल है। इस साल यह दो यूजी पाठ्यक्रमों के साथ शुरू हुआ है।
  6. एशिया के पहले अनुसंधान रिएक्टर “अप्सरा” का परिचालन अगस्त 1956 में भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र के ट्रॉम्बे परिसर में शुरू हुआ। शोधकर्ताओं को पांच दशक से अधिक समय तक समर्पित सेवा प्रदान करने के बाद इस रिएक्टर को 2009 में बंद कर दिया गया। अप्सरा के अस्तित्व में आने के लगभग 62 सालों के पश्चात 10 सितंबर 2018 को ट्रॉम्बे में स्विमिंग पूल के आकार का एक शोध रिएक्टर “अप्सरा-उन्नत” का परिचालन प्रारंभ हुआ। उच्च क्षमता वाले इस रिएक्टर की स्थापना स्वदेशी तकनीक से की गई है। इसमें निम्न परिष्कृत यूरेनियम (LEU) से निर्मित प्लेट के आकार का प्रकीर्णन ईंधन का इस्तेमाल किया जाता है। उच्च न्यूट्रॉन प्रवाह के कारण यह रिएक्टर स्वास्थ्य अनुप्रयोग में रेडियो-आइसोटोप के स्वदेशी उत्पादन को 50 प्रतिशत तक बढ़ा देगा। इसका उपयोग नाभिकीय भौतिकी, भौतिक विज्ञान और रेडियोधर्मी आवरण के क्षेत्र में बड़े पैमाने पर किया जाएगा।
  7. भारत-यूएस रक्षा सहयोग के हिस्से के रूप में, संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास युद्ध अभ्यास 2018 उत्तराखंड के चौबट्टिया में 16 सितंबर से 29 सितंबर 2018 तक हिमालय की तलहटी में आयोजित किया जाना है। यह दोनों देशों द्वारा वैकल्पिक रूप से आयोजित संयुक्त सैन्य अभ्यास का 14वां संस्करण होगा। संयुक्त अभ्यास युद्ध अभ्यास 2018 एक ऐसे परिदृश्य का अनुकरण करेगा जहां दोनों राष्ट्र संयुक्त राष्ट्र चार्टर के तहत पहाड़ी इलाके में विद्रोह और आतंकवाद के माहौल के खिलाफ संघर्ष करेंगे।
  8. अविरत भारत-यूएस रक्षा सहयोग के हिस्से के रूप में, उत्तराखंड के चौबट्टिया में हिमालय की तलहटी में16 सितंबर से 29 सितंबर 2018 तक एक संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास युद्ध अभ्यास 2018 आयोजित किया जाएगा. यह दोनों देशों द्वारा वैकल्पिक रूप से आयोजित संयुक्त सैन्य अभ्यास का 14 वां संस्करण होगा। दो सप्ताह के इस अभ्यास में अमेरिकी सेना के लगभग 350 कर्मियों और भारतीय सेना द्वारा समान शक्ति भाग लेगी।
  9. रेलवे और कोयला मंत्री, पियुष गोयल ने एक वेब पोर्टल ‘www.railsahyog.in’ लॉन्च किया। यह वेब पोर्टल कॉरपोरेट सामाजिक दायित्‍व (CSR) कोष के जरिए रेलवे स्‍टेशनों पर एवं इनके निकट सुविधाओं के सृजन में योगदान के लिए कॉर्पोरेट और पीएसयू के लिए एक मंच प्रदान करेगा।

  1. नीतिआयोग, इंटेल और टाटा मूलभूत अनुसंधान संस्थान (TIFR) ने 7 सितंबर को घोषणा की कि वे एआई वअनुप्रयोग आधारित शोध परियोजनाओं के विकास और क्रियान्वयन के लिए परिवर्तनीय कृत्रिम बुद्धिमत्ता आदर्शअंतर्राष्ट्रीय केन्द्र (ICTAI) की स्थापना करेंगे। यह पहल नीति आयोग के कार्यक्रम ‘कृत्रिम बुद्धिमत्ता के लिए राष्ट्रीय रणनीति’ का एक हिस्सा है। देश मेंआईसीटीएआई की स्थापना निजी क्षेत्र के सहयोग से की जाएगी। बंगलुरू स्थित यह आदर्श ICTAI स्वास्थ्य देखभाल, कृषि और स्मार्ट गतिशीलता क्षेत्र में AI आधारितसमाधान के अनुसंधान का संचालन करेगा। इसमें इंटेल और टीआईएफआर की विशेषज्ञता का उपयोग किया जाएगा। प्रशासन, मूलभूत अनुसंधान, अवसंरचना, गणना व सेवा अवसंरचना तथा प्रतिभाओं को आकर्षित करना जैसे क्षेत्रोंमें यह संस्थान परीक्षण करेगा, खोज करेगा और सर्वोत्तम अभ्यासों की स्थापना करेगा।
  2. हरियाणा सरकार ने इंडियन ऑइल कारपोरेशन (IOC) के साथ पानीपत में 900 करोड़ रुपये से अधिक के व्यय के साथ एक इथेनॉल संयंत्र स्थापित करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। यह पहल प्रति दिन 100 किलोलीटर इथेनॉल की प्रस्तावित क्षमता के साथ फसल अवशेष का प्रबंधन करेगी और आने वाले धान के मौसम से पहले भूसे को जलने से रोकेगा। MOU पर हरियाणा के निदेशक, कृषि और किसान कल्याण विभाग, दुसमंता के बेहरा और मुख्य महाप्रबंधक, वैकल्पिक ऊर्जा और सतत विकास, आईओसी लिमिटेड संजय कुमार श्रीवास्तव ने हस्ताक्षर किए. समझौता एक वर्ष के लिए मान्य होगा।

  1. HDFC लाइफ ने विभा पडलकर को तीन वर्ष की अवधि के लिए अपने नए प्रबंध निदेशक और सीईओ के रूप में नियुक्त किया है। यह पद अमिताभ चौधरी के एक्सिस बैंक के प्रमुख बनने पर HDFC लाइफ से इस्तीफा देने के बाद से खाली था। नियुक्ति की शर्तें शेयरधारकों और भारत के बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) द्वारा अनुमोदन के अधीन हैं, अपनी पदोन्नति से पहले, पाडलकर बीमाकर्ता की मुख्य वित्तीय अधिकारी (CFO) और कार्यकारी निदेशक थी’।

  1. भारत में पैदा हुई महिला स्कोलर राजलक्ष्मी नंदकुमार को स्मार्टफोन का उपयोग करके संभावित रूप से जीवन के लिये घातक वाले स्वास्थ्य समस्याओं का पता लगाने में मदद के लिए उनके काम के लिए अमेरिका में एक प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए चुना गया है। उन्हें 2018 मार्कोनी सोसायटी पॉल बरन यंग स्कोलर पुरस्कार के लिए चुना गया है। वाशिंगटन विश्वविद्यालय में पढ़ रही नंदकुमार ने एक ऐसी तकनीक बनाई है जो एक सामान्य स्मार्टफोन को एक सक्रिय सोनार प्रणाली में बदल देती है जो शारीरिक संपर्क के बिना शारीरिक गतिविधियों, जैसे मूवमेंट और श्वसन का पता लगाने में सक्षम है।

 

 

 


“Hello friends ! We invest several of hours a day to provide you daily & latest Current Affairs & content related to various exams. If you feel that our work is good and you like this website please SUBSCRIBE it to get all new updates in your E-mail box and SHARE it to your friends and Facebook  ………….. Thanks”


 

 

सभी नए posts अपने E-mail पर प्राप्त करने के लिए यहाँ अपनी E-mail ID लिखकर Subscribe करें ….Thanks !!


Share this article on
  • 5
    Shares